अब रायबरेली के सभी डाकघर जुड़े सीबीएस सेवा से

अब रायबरेली के सभी डाकघर जुड़े सीबीएस सेवा से

-:विज्ञापन:-

रिपोर्ट-केशवानंद शुक्ला

*सभी डाकघरों में खातों पर एटीएम एवं चेक बुक की सुविधा भी उपलब्ध-अधीक्षक डाकघर एबी सिंह*

रायबरेली। भारतीय डाक विभाग बैंकिंग प्रणाली की नई टेक्नोलॉजी को अपनाते हुए हर रोज नए कदम उठा रहा है एवं माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने में अहम भूमिका निभाता नजर आ रहा है। इसी तारतम्य में भारतीय डाक विभाग के रायबरेली मंडल के सभी डाकघर, जिनमें 54 उप डाकघर एवं दो प्रधान डाकघर शामिल है, सीबीएस( कोर बैंकिंग सॉल्यूशंस) सेवा से जुड़ गए हैं। अब रायबरेली मंडल के डाकघर के ग्राहकों को अपने नजदीकी डाकघर से ही सभी सेवाएं प्राप्त हो सकेंगी भले ही उनका खाता पूरे भारत के किसी भी सीबीएस डाकघर में हो।
साथ ही साथ डाकघर के खातों में एटीएम और चेक बुक भी जारी हो रही है जो कि किसी भी बैंक में लगाई जा सकती है एवं धन आहरण किया जा सकता है। यह जानकारी देते हुए अधीक्षक डाकघर अशोक बहादुर सिंह ने यह भी आश्वासन दिया कि डाकघर कर्मचारियों की सेवा के लिए तत्पर हैं । अब धन की जमा निकासी के लिए लंबी लाइनों का समय गया, अब डाकघर नई टेक्नोलॉजी से पूरी तरह से लैश हैं। श्री सिंह ने यह भी बताया कि डाकघरों में बचत बैंक खाते में 4% सालाना ब्याज दर की दर से ब्याज मिलता है जो कि किसी भी बैंक की तुलना में सर्वाधिक है। अधीक्षक डाकघर ने बताया कि पोस्ट इंफो ऐप के माध्यम से घर बैठे डाकघर बचत बैंक के खाते से ऑनलाइन सेवाओं का भी लाभ लिया जा सकता है। एवं डाकघर बचत बैंक खाते में नेट बैंकिंग की सुविधा भी उपलब्ध है।

*घर बैठे 5 वर्ष तक के बच्चों का आधार भी बनाएंगे डाकिया*

अधीक्षक डाकघर अशोक बहादुर सिंह ने बताया कि डाकघर का डाकिया अब घर बैठे ही इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के सीईएलसी ऐप के माध्यम से घर बैठे ही 5 साल तक के बच्चों का बाल आधार  बनाएगा। यह सुविधा भारतीय डाक विभाग द्वारा जल्द ही शुरू की गई है इसके अलावा पोस्टमैन आधार कार्ड को मोबाइल नंबर से लिंक करने की व्यवस्था भी घर बैठे ही उपलब्ध कराएगा, यह सेवाएं जनपद में चालू कर दी गई हैं और वृहद स्तर पर शुरू करने के लिए कार्य हो रहा है।