अन्तर्राष्ट्रीय वृध्दजन दिवस पर जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन

अन्तर्राष्ट्रीय वृध्दजन दिवस पर जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन
रायबरेली--माननीय राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार व श्री अब्दुल शाहिद, जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, रायबरेली के दिशानिर्देशन में अन्तर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर वृद्धजन आवास दूरभाष नगर आई0टी0आई0 कैम्पस रायबरेली में वरिष्ठ नागिरकों के विधिक अधिकार विषय पर विधिक साक्षरता एवं जागरुकता शिविर का आयोजन किया गया। कोरोना महामारी के समय सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। कोविड-19 से बचाव मास्क का प्रयोग दो गज की दूरी का अनुपालन करने हेतु जागरुक किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री मयंक जायसवाल सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, रायबरेली के द्वारा की गयी। सचिव द्वारा वृद्धजनों से समसामायिक विषयों पर विस्तार से चर्चा की गयी कि कैसे हम अपने आसपास हो रही घटनाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त कर सकते है सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा वरिष्ठ नागरिक अधिनियम के सम्बन्ध में बिन्दुवार बताया गया। वृद्धजनों को प्रेरक कार्य करने के लिए कहा कि आप वर्तमान में जियें। इस अवसर पर वृद्धाजनों को उनके निःशुल्क अधिकारों के विषय पर जानकारी दी गयी सचिव महोदय द्वारा उपस्थित वृद्धजनों के समस्याओं को सुना गया एवं उसके निस्तारण के सम्बन्ध में जानकारी दी। वृद्धजनों को योगक्रिया के संबंध में बताया गया कि कैसे वह योग को अपनाकर स्वस्थ जीवन जी सकते है। इस अवसर पर प्रेरित करते हुए कहा गया कि जीवित और कर्मठ लोगों की सदैव आलोचना होती रहती हैं। आप सभी को आलोचनाओं से परे जीवन अच्छे से व्यतीत करना हैं। सचिव महोदय द्वारा कहा गया कि बुजुर्ग हमारे जीवन की अमूल्य धरोहर है बुजुर्गो के आर्शीवाद से बढ़कर कुछ नहीं है। सचिव महोदय द्वारा भगवान गणेश व कार्तिक भगवान की प्रेरणादायक कहानी सुनाकर कर बुजुर्ग के महत्व को बताया।  इस अवसर पर तहसीलदार सदर श्रीमती अमिता यादव, वरिष्ठ अधिवक्ता श्री लक्ष्मी शंकर बाजपेयी, डी0पी0पाल, जय सिंह यादव व जितेन्द्र बहादुर यादव ने अपने विचार साझा किये पराविधिक स्वयं सेवक बृजपाल, पवन कुमार श्रीवास्तव, द्वारा भी संबोधित किया गया।

फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले