शिक्षक और छात्रा के बीच का रिश्ता हुआ तार तार

शिक्षक और छात्रा के बीच का रिश्ता हुआ तार तार

-:विज्ञापन:-

रिपोर्ट-ओम द्विवेदी(बाबा)
मो-8573856824


रायबरेली-डलमऊ थाना क्षेत्र के अंतर्गत स्थित शिक्षा के मंदिर कहे जाने वाले किसान इंटर कॉलेज के प्रबंधक के बेटे जो कि 1 सरकारी स्कूल में शिक्षक भी हैं उन पर स्कूली छात्रा ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। जिसके मामले में पुलिस ने जांचोपरांत 3 दिन बाद विवाहित पीड़िता की तहरीर पर डलमऊ थाने में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। लेकिन अगर देखा जाए तो बेटियां,बहने,महिलाएं आखिर कहां सुरक्षित है सुरक्षा के लाख इंतजाम के बाद भी ऐसी वारदातें अब आम होती जा रही हैं। कोई महिला होने का फायदा उठा रहा है तो कोई पद पर होने का फायदा उठा रहा है। ऐसे में शिक्षक और छात्रा के बीच का जो रिश्ता होता है गुरु और शिष्य का इस घटना के बाद तो तार तार होता दिखाई दिया है इंसान किस पर भरोसा करें किस पर ना करें यह कभी समझ ही नहीं आता यह घटना दोनों की सहमति से हुई या नहीं यह तो एक जांच का विषय है सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार पता चला है कि कुछ माह पहले पीड़ित छात्रा के अंक पत्रों में अच्छे नंबरों से पास करने को लेकर छात्रा से अवैध रूप से संबंध बनाए जिसका छात्रा ने ऑडियो में जिक्र भी किया काफी दिनों बीत जाने के बाद  मामला तब उजागर हुआ जब छात्रा ब्याह कर अपने मायके से ससुराल गई कुछ महीने बाद विवाहिता के ससुराली जनों ने जब उसकी जांच कराई तो  रिपोर्ट आ जाये होस तो उड़ेंगे ही वही रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद ससुराली जनों के होश उड़ गए और फिर तरह तरह की बातें होने लगी मामला छात्रा के घर तक पहुंचा छात्रा के परिजन भी अपनी बेटी के ससुराल पहुंचे और किसी तरह से मामले को समझाने की कोशिश करने लगे लेकिन ससुराल पक्ष मानने को तैयार नहीं है वही जब विवाहित पीड़िता छात्रा ने आरोपी शिक्षक से फोन पर बात की तो शिक्षक भी किसी तरह से मामले को कहलाने में लगे रहे वहीं पीड़ित छात्रा लगातार शिक्षक से कहती रही मेरी जिंदगी तो खराब हो गई है अब मुझे कौन देखेगा मैं कहां जाऊं मेरे ससुराल वाले भी निकाल रहे हैं मेरे मायके वाले भी निकाल रहे हैं जिसका ऑडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है इस 3 दिन की उठापटक के बाद पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया है लेकिन अब क्या पीड़िता छात्रा को ससुराल पक्ष अपना पायेगा या उसे अब सारी जिंदगी ठोकर खाना पड़ेगा यह तो आने वाला वक्त बताएगा