Corona Virus Pandemic: UAE ने भारत से आने वाली पैसेंजर फ्लाइट्स पर 30 जून तक बैन बढ़ाया

Corona Virus Pandemic: UAE ने भारत से आने वाली पैसेंजर फ्लाइट्स पर 30 जून तक बैन बढ़ाया

-:विज्ञापन:-

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने रविवार को कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Pandemic) के मद्देनजर भारत (India) से आने वाली यात्री उड़ानों का निलंबन 30 जून तक बढ़ा दिया. भारत में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बाद 25 अप्रैल को उड़ानों पर रोक लगाई गई थी. यूएई की वायुसेवा प्रदाता एमिरेट्स ने रविवार को अपनी वेबसाइट पर जारी संदेश में कहा कि उसने भारत से आने वाली यात्री उड़ानों पर जारी रोक को 30 जून तक बढ़ा दिया है. इससे पहले 14 जून तक यात्री उड़ानों पर रोक की घोषणा की गई थी.

वहीं, सऊदी अरब ने दुनिया के 11 देशों को यात्रा प्रतिबंध वाली लाल सूची से बाहर कर दिया है. यहां की सरकारी समाचार एजेंसी सऊदी प्रेस एजेंसी (एसपीए) ने शनिवार को देश के आंतरिक मंत्रालय के हवाले से इस बात की जानकारी दी है. इन देशों में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), जर्मनी, अमेरिका, आयरलैंड, इटली, पुर्तगाल, ब्रिटेन, स्वीडन, स्विटजरलैंड, जापान और फ्रांस का नाम शामिल है.

अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को सात दिनों के लिए क्वारंटीन रहना जरूरी

सऊदी अरब ने कोरोना वायरस पर नियंत्रण के लिए इन देशों की कोशिशों को देखते हुए इन्हें लाल सूची से बाहर निकाला है. फिलहाल सऊदी अरब आने पर सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को सात दिनों के लिए क्वारंटीन होना पड़ता है, इसके लिए लोगों को खुद ही पैसे देने होते हैं. किंगडम में प्रवेश करने के बाद क्वारंटीन के लिए निर्धारित स्थान पर जाना होता है. इसके अलावा सऊदी पहुंचने के सात दिन बाद यानी क्वारंटीन अवधी खत्म होने पर यात्री की पीसीआर जांच की जाती है. अगर रिजल्ट निगेटिव आता है, तो वह अगले दिन क्वारंटीन केंद्र से जा सकते हैं.

सऊदी अरब की सरकार ने फरवरी महीने में इन सभी देशों से आने वाले लोगों पर यात्रा प्रतिबंध लगा दिया था. हालांकि यहां से सऊदी के नागरिक, राजनयिक, स्वास्थ्य पेशेवर और उनके परिवार वाले आ सकते थे. किंगडम ने आधिकारिक तौर पर विदेश यात्रा करने वाले नागरिकों पर से 17 मई को यात्रा प्रतिबंध हटाया था. वहीं गुरुवार को देश की जनरल एंटरटेनमेंट अथॉरिटी (जीईए) ने घोषणा की है कि जिन लोगों का टीकाकरण हो गया है, उनके लिए मनोरंजन संबंधी गतिविधियों की बहाली की जाती है.