महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना कहा, ‘यह गांधी का नहीं गोडसे का भारत’

महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना कहा, ‘यह गांधी का नहीं गोडसे का भारत’
महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना कहा, ‘यह गांधी का नहीं गोडसे का भारत’

-:विज्ञापन:-

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हाल ही में एक बयान में कहा है कि, ‘हम गोडसे के भारत में रह रहे हैं, गांधी के नहीं, जहां लोगों पर अपने विचार व्यक्त करने के लिए आतंकवाद विरोधी कानून लगाए जा रहे हैं।’  उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र ने जम्मू-कश्मीर को “शांतिपूर्ण” दिखाया है, जबकि तथ्य यह है कि सड़कों पर खून बहाया जा रहा है।

महबूबा मुफ्ती ने आगे कहा, ‘मेरे पिता ने अटल बिहारी वाजपेयी जैसा नेता पहले देखा था और उन्हें उम्मीद थी कि नई भाजपा सरकार इस विचारधारा पर काम करेगी। जिस नए कश्मीर का प्रचार किया जा रहा है वह सच नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने आगे पुछा,  दिनदहाड़े एक कश्मीरी पंडित की हत्या कर दी गई। एक

 बिहारी का खून सड़क पर बहाया गया था और हम इसे नया कश्मीर कहते हैं?’

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘न्यू कश्मीर’ को भूल जाइए और ‘न्यू हिंदुस्तान’ की बात कीजिए।  नए भारत में संविधान की बात करने वाले हर व्यक्ति को टुकड़े टुकड़े गैंग’ का टैग दिया जाता है। ऐसा लगता है कि यह नाथूराम गोडसे का भारत है और वह गोडसे का कश्मीर बना रहे हैं,।