यूपी पंचायत चुनाव 2021 की अधिसूचना जारी होने से पहले हटेंगे ग्राम प्रधानों के बाेर्ड, जानिए वजह

यूपी पंचायत चुनाव 2021 की अधिसूचना जारी होने से पहले हटेंगे ग्राम प्रधानों के बाेर्ड, जानिए वजह

-:विज्ञापन:-

यूपी में फरवरी के अंतिम सप्ताह या मार्च के शुरुआत में पंचायत चुनाव शुरू हो सकते हैं। माना जा रहा है फरवरी में इसकी अधिसूचना जारी हो जाए। इसके पहले ग्राम प्रधानों के नाम लगे बोर्ड को पुतवाने का काम जिला पंचायत राज विभाग की तरफ से किया जाएगा। इसको लेकर डीपीआरओ ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे जनपद में जहां पर भी प्रधानों के नाम के बोर्ड लगे हैं, उन पर से प्रधानों के नाम को पुतवाया जाए।

शासन के निर्देशों पर जिला प्रशासन द्वारा पंचायत चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। 25 दिसंबर को ग्राम प्रधानाें का कार्यकाल खत्म् हो चुका  है। अधिकांश गांवों के बाहर अभी भी प्रधानों के नाम के बोर्ड लगे हैं। इनको पंचायती राज विभाग ने अपने संज्ञान में लिया है, क्योंकि जब प्रधान पद का कार्यकाल खत्म हो गया है, तो कोई भी व्यक्ति अपने नाम के आगे प्रधान पद नहीं लिखा सकता है। ऐसे में बदायूं के जिला पंचायत राज अधिकारी डॉ. शरनजीत कौर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह प्रधानों के गांवों के बाहर या अंदर लगे बोर्ड से प्रधान पद के साथ लिखे नाम को पुतवा दें। इसमें किसी भी तरफ की कोई लापरवाही न की जाए। 

बिजनौर में पहुंचे बैलेट पेपर :

पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां रफ्तार पकड़ने लगी है। बिजनौर जिला मुख्यालय पर पंचायत चुनाव को लेकर बैलेट पेपर पहुंच चुके हैं। एनआईसी से भी विभाग के कर्मचारियों का डाटा की जानकारी जुटाई जाने लगी है। पंचायत चुनाव को लेकर जिला प्रशासन ने भी तैयारियां धीरे धीरे शुरू कर दी है। ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, जिला पंचायत सदस्य, और ग्राम प्रधान के चुनाव को लेकर जिला मुख्यालय पर बैलेट पेपर पहुंच चुके हैं। एनआईसी से भी विभागों के कर्मचारियों का डाटा की जानकारी तलब की जाने लगी है। जिले में 25 दिसम्बर को प्रधानी खत्म हो गई है और शासन के आदेश पर ग्राम पंचायतों में विकास कार्य देखने के लिए सभी ब्लाकों पर प्रशासक नियुक्त कर दिए गए हैं। शासन से अभी पंचायत चुनाव को लेकर तिथि की घोषणा नहीं हुई है लेकिन धीरे धीरे पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू होने लगी है। ऐसा माना जा रहा है कि बहुत जल्द चुनाव के लिए मतपेटियों को दुरूस्त करने का काम भी शुरू होगा।

ग्राम पंचायतों में भी पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई है। प्रधान बनने की चाह रखने वाले लोगों ने वोटरों को लुभाने के लिए दावतों का दौर शुरू कर दिया है। ग्राम पंचायतों में प्रधान का चुनाव लड़ने की दावेदारी ग्रामीणों ने ठोकनी शुरू कर दी है। ग्रामीणों सरकार द्वारा पंचायत चुनाव की घोषणा होने का बेसब्री से इंतजार है। बतादें कि 22 जनवरी को पंचायत चुनाव को लेकर वोटर लिस्ट का प्रकाशन होगा। पिछले पांच सालों की अपेक्षा इस बार काफी वोट बढ़ने की उम्मीद है।सुनील कुमार वरिष्ठ सहायक निर्वाचन कार्यालय ने बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर बैलेट पेपर आ चुके हैं। पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां चल रही है।