सपा को झटका, एमएलसी घनश्याम लोधी और शैलेन्द्र प्रताप सिंह भाजपा में शामिल

सपा को झटका, एमएलसी घनश्याम लोधी और शैलेन्द्र प्रताप सिंह भाजपा में शामिल
सपा को झटका, एमएलसी घनश्याम लोधी और शैलेन्द्र प्रताप सिंह भाजपा में शामिल

-:विज्ञापन:-

समाजवादी पार्टी (सपा) के दो विधान परिषद सदस्यों घनश्याम लोधी और शैलेन्द्र प्रताप सिंह के अलावा भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के पूर्व अधिकारी रामबहादुर एवं कुछ पूर्व विधायकों ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण कर ली। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष दया शंकर सिंह की मौजूदगी में इन नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई। एमएलसी घनश्याम लोधी ने हाल ही में सपा पर दलितों और पिछड़ों की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया था।

इनके अलावा जिन अन्य नेताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है उनमें शिकोहाबाद के पूर्व विधायक ओम प्रकाश, फिरोजाबाद के  पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय प्रताप सिंह 'छोटू' ने भी पार्टी की सदस्यता ली। रामबहदुर बसपा के टिकट पर मोहनलालगंज सीट से 2017 का चुनाव लड़े थे और वे महज 500 वोट से चुनाव हारे थे। इस मौके पर स्वतंत्र देव सिंह ने भाजपा में शामिल हुये सभी नेताओं का पार्टी में स्वागत किया।

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि भाजपा के उम्मीदवारों की पहली सूची देखते ही सपा ने हार मान ली। यही वजह है कि हताश और निराश सपा, अब हिंसा एवं धमकी की भाषा पर उतर आई है। सिंह ने कहा कि सपा ने गुंडों, माफियाओं और दंगाइयों को अपना ब्रांड एंबेसडर बना रखा है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के उत्साह से निराश सपा नेता अब चुनाव में हिंसा फैलाने की धमकी देने लगे हैं। सपा की तरफ से पोस्ट किया गया एक धमकी भरा वीडियो और सपा नेता अब्दुल्ला आजम का बयान इसका प्रमाण है।