फौजी को सिपाही ने पीटा ली रिश्वत

फौजी को सिपाही ने पीटा ली रिश्वत
रायबरेली- क्या देश की रक्षा के लिए सरहद पर डटा फौजी भी कभी टूट सकता है? शायद इसके लिए आपका जवाब 'नहीं' हो, लेकिन हमारा जवाब 'हां' है। आपने ठीक सुना, हां हम सबकी रक्षा के लिए सरहद पर डटा फौजी भी टूट सकता है, अगर किसी फौजी को सरेआम बेइज्जत कर दिया जाए, अगर कीसी फौजी को थाने के अंदर सार्वजनिक रूप से लात-घूंसों से पीटा जाए
 छुट्टी पर आए श्रीनगर में तैनात फौजी ने रायबरेली पुलिस पर गंभीर आरोप  लगाए है।

फौजी ने थाने के सिपाही पर न सिर्फ पिटाई का आरोप लगाया है बल्कि दूसरे सिपाही पर समझौते के नाम पर 4 हजार की रिश्वत मागने का भी आरोप लगाया है ।  मीडिया के सामने रो रो कर फौजी ने आप बीती बताई और न्याय न मिलने पर मुख्यमंत्री के कार्यालय के बाहर आत्मदाह करने की भी बात कही है।
 पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर आखों में आंसू लिए खड़े इस फौजी को गौर से देखिए इसका नाम राणा सिंह है श्री नगर में तैनात है और यह रायबरेली जिले के डीह थाना क्षेत्र के पूरे धनी गाँव का रहने वाला है। पीड़ित फौजी का गाव में ही जमीनी विवाद हुआ जिसमें डीह थाने की पुलिस फौजी को उठा लाई। फौजी का आरोप है कि उसे थाने के सिपाही अनिल कुमार विश्वकर्मा ने न सिर्फ जमकर पीटा वही सुलह समझौता के नाम पर थाने के ही दूसरे सिपाही ने 4 हजार की रिश्वत ली। पीड़ित ने एसपी से रो रोक कर आप बीती बताई और आरोपियों पर कार्यवाही न होने पर मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह करने की धमकी भी दी। आइये आपको सुनवाते है पीड़ित फौजी की जुबानी। वही पुलिस ने इस पूरे मामले में जांच की बात कही है अपर पुलिस अधीक्षक की माने तो पूरे मामले में सीओ को जांच सौंपी गई है जांच रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्यवाही की जाएगी।


फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले