रायबरेली-कच्चा मकान गिर जाने की वजह से पीड़ित परिवार त्रिपाल तानकर खुले आसमान रहने को मजदूर

रायबरेली-कच्चा मकान गिर जाने की वजह से पीड़ित परिवार त्रिपाल तानकर खुले आसमान रहने को मजदूर

-:विज्ञापन:-

रिपोर्ट-सागर तिवारी 
मो-9044949495


ऊंचाहार-रायबरेली-प्रदेश की भाजपा सरकार सबका साथ सबका विकास के नारे के साथ आगामी 2022 का विधानसभा चुनाव फतेह करने की तैयारी फिर से कर रही है  लेकिन सरकार के कुछ कर्मचारियों की लापरवाही के चलते सरकार की योजनाएं आर्थिक मदद पीड़ित लोगों तक नहीं पहुंच पा रही है कर्मचारी सरकार के अरमानों पर पानी फेर रहे हैं और बदनाम सरकार हो रही है जी हां हम बात कर रहे हैं ऊंचाहार तहसील में तैनात लेखपाल की जहां पर बीते 8 दिन बीत जाने के बावजूद बारिश के दौरान कच्चा मकान गिर जाने की वजह से पीड़ित परिवार त्रिपाल तानकर खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर है परंतु लेखपाल द्वारा अभी तक वहां तक पहुंचने के लिए समय नहीं मिल पाया है पीड़ित द्वारा तहसील दिवस में भी प्रार्थना पत्र दिया गया था बताते चलें कि बीते शुक्रवार को ग्राम गोंडा मजरे इटौरा बुजुर्ग निवासी शिव बहादुर पुत्र बद्री का कच्चा मकान बारिश के दौरान भरभरा कर गिर गया था जिस वजह से घर में रखा हुआ खाद्य सामग्री कपड़े सब दब गए पीड़ित द्वारा हल्का लेखपाल  को सूचना दी गई परंतु 8 दिन बीत जाने के बावजूद अभी तक लेखपाल मौके पर नहीं पहुंचे हैं जिससे मदद की आस में त्रिपाल तानकर रहने को मजबूर है