आई टी स्टूडेंट ने बनाया एसा ऐप,लोगो मे चर्चा का विषय बना

आई टी स्टूडेंट ने बनाया एसा ऐप,लोगो मे चर्चा का विषय बना
रिपोर्ट-- सागर तिवारी 

ऊँचाहार/रायबरेली--प्रधानमंत्री मोदी ने देश को डिजिटल बनाने की जो बात कुछ दिनों पहले कही थी उसी के नक्शे कदम पर भारत देश की छवि डिजिटल बनती जा रही है और देश के युवाओं की रूचि भी इस डिजिटल ट्रेंड पर काम कर रही है।कहीं न कहीं डिजिटल ट्रेंड पर लगन और मेहनत से काम करने वाले युवा छात्रों को सफलता भी हासिल हो रही है।
एक ऐसा ही कारनामा रायबरेली जनपद के ऊँचाहार तहसील क्षेत्र के जमुनापुर चौराहा निवासी साहिल जायसवाल पुत्र मुकेश जायसवाल  ने किया है जब इस आईटी विभाग के छात्र ने एक ऐसा फनी एप महामारी के दौरान घर पर बनाया है जो क्षेत्र में चर्चा का विषय भी बना हुआ है।और इसे प्ले स्टोर व वेब साइट पर भी देखा जा सकता है।
जानकारी के लिए बता दें आईटी छात्र साहिल जायसवाल ने एनटीपीसी स्थित डीएवी कॉलेज से मैट्रिक की परीक्षा पास की फिर जनपद के एफजी कालेज से तीन साल डिप्लोमा करने के बाद उसे आईटी क्षेत्र में रूचि होने लगी और फिर क्या उसने लखनऊ के ऐंड्रॉयड स्टूडियो पर ट्रेनिंग करने लगा ,वहीं ट्रेनिंग का आखिरी दौर चल रहा था उसी दौरान कोरोना महामारी के चलते लॉक डाउन हो गया तभी ट्रेनिंग बीच में ही छोड़कर साहिल को घर आना पड़ा।तभी उसने उत्साहित होकर घर पर ही एक फनी वीडियो एप मीमलैंड बनाया।जो इस वक्त क्षेत्र में चर्चा का विषय बन रहा है।
फिलहाल ये एप प्ले स्टोर पर उपलब्ध है इसके अलावा वेब साइट पर भी इसको देखा जा सकता है।
वहीं पिता मुकेश जायसवाल भी तीन बेटों में सबसे छोटे बेटे साहिल की इस अदभुत कार्यशैली से उत्साहित है।

फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले